रामनवमी (चैत्र नवरात्रि) व्रत पूजा विधि एवं व्रत कथा |Chaitra Ram Navami Vrat Pooja Vidhi in Hindi

Ram Navami

रामनवमी (चैत्र नवरात्रि) व्रत पूजा विधि एवं व्रत कथा (Chaitra Ram Navami Vrat Pooja Vidhi in Hindi) : नवरात्रि भारत के महान पर्वों में से एक है जो सामूहिक धर्मानुष्ठान के रूप में किसी न किसी प्रकार हर वर्ष बड़े उतसाह के साथ मनाया जाता है | रामलीला, रासलीला, गणगौर, दुर्गापूजा आदि के कार्यक्रम आश्विन मास में होते है और […]

» Read more

दीपावली व धनतेरस पूजन विधि और शुभ मुहूर्त | Diwali and Dhanteras Pooja Vidhi or Subh Murhat

दिवाली एक हिन्दू के पवित्र त्यौहार है जिसकी शुरुआत धन तेरस से होती है। धन का मतलब रूपया, सम्पति और कुबेर होता है और तेरस कृष्णा पक्ष का तेरहवे दिन होता है| यह हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की त्रयोदशी तिथि को मनाए जाते है। हिन्दू समाज में धनतेरस सुख-समृद्धि, यश और वैभव का पर्व माना जाता है। इस […]

» Read more

दीपावली पूजन विधि और शुभ मूहूर्त | Diwali Puja Vidhi and Shubh Muhurt

diwali

07-नवंबर-2018 शुभ दिवाली दीपावली हिन्दुओ का पवित्र त्यौहार है और इस दिन माँ लक्ष्मी जी व गणेश जी के साथ माँ सरस्वती जी की भी पूजा की जाती है। भारत मे दीपावली परम्परा व श्रद्धा का त्यौंहार है। दीपावली के दिन शाम में दिप जलाकर का पूजन किया जाता है। दीपावली के दिन प्रत्येक हिन्दू, वो चाहे व्यवसायिक हो, किसी कार्य […]

» Read more

छठ पूजा शुभ मुहर्त, व्रत कथा, पूजन विधि और छठ पूजा महत्व | Chhath Puja Shubh Muhtat, Pooja Vidhi and Katha

chhath-pooja-vidhi-in-hindi

छठ पूजा के बारे में : छठ पूजा एक मनोकमना पूरी होने वाली हिंदू त्यौहार है जो हर साल लोगों द्वारा बहुत उल्लाश, श्रद्धा और उत्सुकता के साथ मनाया जाता है। ये त्यौहार बिहार, झारखण्ड, वेस्ट बंगाल, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश और भी कुछ  राज्यों  के लोग पूजा करते है| छठ पूजा सिवान, छपरा, गोपालगंज,औरंगाबाद, देहरी-ओन-सोने, पटना, देव और गया में […]

» Read more

करवा चौथ व्रत की कथा और पूजा करने की विधि | Karwa Chauth Vrat and Pooja Vidhi in Hindi

पुरे भारत में करवा चौथ के नाम की एक पर्व मनाया जाता है जिसे वैवाहिक स्त्रियाँ करती है| यह पर्व उत्तर-पूर्वी भारत में बहुत प्रशिद्ध है|  ये निर्जला एकादशी के सामान यह व्रत भी निर्जला ही किया जाता है| इस दिन सभी स्त्रियाँ अपने-अपने पतियों की दीर्घायु और शवस्त के लिए भगवान शिव और गौरी की आराधना करतीं है| यह […]

» Read more
1 2