Raksha Bandhane ka Subh Murhat – रक्षा बंधन के शुभ मुर्हत




रक्षा बंधन  पर राखी शुभ मुर्हत में ही बांधे  वरना आ सकती है मुसीबत क्यू की इस बार रक्षा बंधन पर लग रहा है चंद्र ग्रहण|रक्षा बंधन का त्यौहार भाई बहन के रिश्ते और उसमे बसे प्यार को मजबूत करता है| रक्षा बंधन के दिन बहन अपने भाई के कलाई पर राखी बांधती है और अपने भाई के लम्बी आयु की कामना करती है, तो बही भाई भी अपनी बहन के लिए दुवा मांगता है| रक्षा बंधन त्यौहार सावन महीने के पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है|
raksha bandhan siwan
इस बार की रक्षा बंधन ७ अगस्त को पड़ रहा है और उसी दिन चंद्र ग्रहण लग रहा है इसलिए आप  सही समय का ख्याल रखे और सही टाइम पे ही रक्षा बांधे और अपनी मनोकामना पूरी करे| यानि की इस दिन बहन को सुबह मुर्हत का ख्याल रखना होगा| यदि सही समय का ध्यान नहीं रखा गया तो भाई को कुछ मुसीबत आ सकती है|




रक्षाबंधन के दिन दिनांक 07-08-2017 को चन्द्रग्रहण है तथा भद्रा सुबह 11:06 तक है। ग्रहण का सूतक दोपहर 01:44 PM पर   लगेगा तथा शुद्ध रात्रि को 12:43 AM पर  होगा । इसलिए सोण जिमाणा और रक्षाबंधन का कार्य 11:07 AM से 01:43 PM के बीच करना अति शुभ रहेगा । चंद्र ग्रहण पुरे 9 घंटे  पहले ही सूतक लग जायेगा , शास्त्रों के अनुसार सूतक में रक्षा बढ़ना अशुभ मन जाता है|